Breaking News
Home / सिवनी / किराए पर मकान लेने वाले ज्यादातर कर रहे बड़े अपराध

किराए पर मकान लेने वाले ज्यादातर कर रहे बड़े अपराध

राष्ट्र चंडिका सिवनी शहर में कई मकान किराए पर संचालित हो रहे हैं। इनमें से ज्यादातर मामलों में निजी उपयोग का टैक्स जमा कर मकान का व्यावसायिक इस्तेमाल किया जा रहा है जो एक तरह का अपराध है। वहीं, किराएदारों की जानकारी पुलिस को नहीं दी जा रही है, यह दूसरा अपराध है। मकान में कौन ठहरा है और वह किस प्रवृत्ति का व्यक्ति है, कहां से आया है, इसकी जानकारी न तो मकान मालिक के पास होती है न ही पुलिस के पास। पुलिस किराए पर मकान देने वालों को कई बार चेतावनी दे चुकी है कि जिसे मकान किराए पर दें, उसकी पूरी जानकारी सम्बंधित थाना क्षेत्र में जमा कराएं। इसके बाद भी किराए पर मकान देने वालों में जागरुकता नहीं आई है। पुलिस भी उस वक्त जागती है जब किसी मकान में रहने वाले किराएदार वारदात को अंजाम देते हैं।  पुलिस ने कई बार  किराएदारों की पूरी जानकारी थाना में जमा  कराने को कहा है कों पर नहीं हुआ।  शहर में घूमते हैं फेरीवाले – शहर के गली और मोहल्लों में आए दिन फेरीवाले घूमते नजर आते हैं। ये भी किराए के मकान में रहते हैं। इनकी भी कोई जानकारी पुलिस के पास नहीं रहती। दरअसल बीते वर्षों में कुछ ऐेसे आपराधिक मामले भी सामने आए हैं जिनमें ऐसे फेरी वालों की संलिप्तता रही है। ये रैकी के बाद चोरी जैसी वारदातों को अंजाम दिया करते थे। साफ है कि शहर में कौन आया किस घटना को घटित कर चला गया इसकी भनक किसी को भी नहीं लग पाती।

About Akhilesh Dubey

Check Also

Watch “महाशिवरात्रि 21 फरवरी 2020 दिन शुक्रवार के पर्व पर शिवालयों में श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़” on YouTube

Share on: WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *