Breaking News

भारत ने चीनी दूतावास पर हमले के आरोप नकारे, कहा-पाक अपने गिरेबां में झांके

पेशावरः पाकिस्तानी पुलिस ने शुक्रवार को भारत की खुफिया एजेंसी‘रॉ’पर नवंबर में कराची स्थित चीन के वाणिज्य दूतावास पर हुए आतंकी हमले में शामिल होने का आरोप लगाया, जिसे भारत ने मनगढ़ंत और झूठा बताते हुए खारिज कर दिया। भारत ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा इस तरह के आरोप लगाने से पहले पाक अपने गिरेबां में झांके और अपने क्षेत्रों में आतंकवाद और आतंकवाद के बुनियादी ढांचे के खिलाफ विश्वसनीय कार्रवाई करने की तरफ ध्यान दे।

दूतावास हमले को लेकर कराची पुलिस का कहना है कि 23 नवंबर को हुए चीनी वाणिज्य दूतावास पर हुए हमले के सिलसिले में एक अलगाववादी बलोच समूह के पांच संदिग्ध गिरफ्तार किए गए हैं। उसका दावा है कि यह हमला चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) को नुकसान पहुंचाने के लिए किया गया।

इस हमले में चार लोग मारे गएथे। प्रेस वार्ता के दौरान कराची पुलिस के प्रमुख आमिर शेख ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों ने तीन हमलावरों की मदद करने की बात कबूली है। तीनों हमलावर हमले के दौरान मारे गए थे। शेख ने दावा किया कि हमले की योजना अफगानिस्तान में बनाई गई और उसे भारत की खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (आरएडब्ल्यू) की मदद से अंजाम दिया गया।

पाकिस्तान के इस दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, हमने पाकिस्तानी मीडिया में कराची पुलिस प्रमुख के भारत पर लगाए गए झूठे आरोपों वाले बयान देखें हैं। हम पूरी तरह से इन मनगढ़ंत और झूठे आरोपों को खारिज करते हैं। इस तरह की आतंकवादी घटनाओं के लिए दूसरों पर उंगली उठाने के बजाय, पाकिस्तान को अपने क्षेत्रों में आतंकवाद और आतंकवाद के बुनियादी ढांचे के खिलाफ विश्वसनीय कार्रवाई करने की आवश्यकता है

About Akhilesh Dubey

Akhilesh Dubey

Check Also

इंद्रा नूई बन सकती हैं वर्ल्ड बैंक की अध्यक्ष, इवांका ट्रंप की हैं पसंद

न्यूयॉर्कः व्हाइट हाउस विश्वबैंक के अध्यक्ष पद के लिए शीतल पेय बनाने वाली वैश्विक कंपनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *