Thursday , February 27 2020
Breaking News
Home / सिवनी / मंडी में व्यापारी और अव्यवस्थाओं से लूटता जिले का किसान

मंडी में व्यापारी और अव्यवस्थाओं से लूटता जिले का किसान

राष्ट्र चंडिका सिवनी।  यूं तो हर सरकार आने के पहले किसानों को लेकर अपने किए जाने वाले कामों का घोषणा पत्र जारी करती है, पर आज तक किसी ही सरकार ने शायद ही कभी उस घोषणापत्र को पलट कर देखा होगा। पूर्व में 15 वर्षों तक प्रदेश में भाजपा की सरकार रही तब भी अन्नदाता के जो हाल थे वहीं अब विगत 1 वर्षों से काबिज कांग्रेस की सरकार में भी हैं। देखा जाए तो अब किसान बंधु ज्यादा पीड़ित और प्रताड़ित नजर आते हैं, प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और जिले में उनके 2 विधायक भी है। बरघाट से काँचना मंडी में अर्जुन काकोडिया का किया व्यवहार सभी को ध्यान है जबकि ये ध्यान ही नही की योगेंद्र बाबा लखनादौन विधायक कभी किसानों के कोई काम आए हो। चुनाव के समय जिस किसान ने सिवनी में आत्महत्या की थी उसे मुआवजा दिलाने की बड़ी-बड़ी बातें करने वाले किसान नेता आज तक गायब है। लालू राय, राकेश बैश, मुकेश बघेल जैसे बड़े नामी किसान नेता भाजपा से है तो लल्लू बघेल, संजय बघेल, रामायण सिंग सिसोदिया कांग्रेस से है। पर तब भी दुर्गति तो तब नजर आती है जब पूरी फसल आने के बाद किसान उसे काटकर मंडी में ले जाता है और मंडी में ही लुट जाता है । एक तो व्यापारी ऊपर से कांटा मारी, उसके बाद मौसम की मार वह भी भारी। विगत 2 दिनों से मौसम का जो हाल है उसके चलते किसानों का मंडी में रखा अनाज पूरी तरह से भीग गया। दिन दर दिन मेहनत करके किसानों का उगाया गया अनाज मंडी में खुले पर रखा था, जोकि प्रकृति की मार नहीं सह सका और भारी बारिश में पूरी तरह से भीग गया।
मंडी प्रशासन जिसे लाखों रुपए की व्यवस्थाएं सरकार के द्वारा किसानों के लिए दी जाती है वह भी किसानों का अनाज बचाने में सफल नहीं रहा। मंडी में किसानों के चुने हुए प्रतिनिधि भी रहते हैं, पर वह किसानों के कम और व्यापारी के प्रतिनिधि ज्यादा नजर आते हैं। एक भी मंडी का प्रतिनिधि ऐसा नहीं है जो कि किसानों की आवाज बनकर सड़क पर आ सके, हर बार किसानों को अपने अनाज के नुकसान मौसम की मार के चलते झेल नहीं पड़ता है। ऊपर से व्यापारियों की समस्याएं अलग बेचारा किसान करे तो क्या करें। सरकार द्वारा कर्ज माफी जब होना हो, हो पर मंडी में हो रही इस दुर्गति पर तो पहले ध्यान देना ही होगा क्योंकि अन्नदाता ही सरकारे बनाता और सरकार गिराता है ।

About Akhilesh Dubey

Check Also

Watch “इंद्रधनुष का कार्यक्रम सिवनी के गजल गारो एवं गायकों की अनुपम प्रस्तुति” on YouTube

Share on: WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *