Breaking News

ट्रांसफर उधोग में तब्दील हुई कांग्रेस सरकार, विज्ञापनों की भी लगी होड़।

राष्ट्र चंडिका ( अखिलेश दुबे की विशेष रिपोर्ट): प्रदेश में बैठी कांग्रेस की कमलनाथ सरकार पुनः अपने पारंपरिक अंदाज में नजर आने लगी है। लोकसभा चुनावों के ठीक पहले थोक के भाव से स्थानांतरण किये जा रहे है। बताया जाता है कि आधे तो अपने हिसाब के अधिकारियों को सेट किया जा रहा है और आधो को ले देकर वापस बुला लिया जाएगा। कांग्रेस की पूर्व सरकारों में ऐसा ही होते आया है। वैसे यहां ये बताना भी आवश्यक है कि कांग्रेस कल्चर में ” भय बिन होये न प्रीत” का नियम सर्वमान्य है। पहले डराओ और फिर अपने काम निकालो।
इसके पूर्व की सरकार में कई सालों से जमे ऐसे किसी भी अधिकारी, कर्मचारी का स्थानांतरण नहीं हुआ था। जानकारी के अनुसार शहर में नगर पालिका परिषद, जनपद पंचायत, आरईएस, सिंचाई, राजस्व, महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य, कृषि विभाग आदि में अधिकारी, कर्मचारी सालों से जमे हुए हैं। इनमें कई अधिकारी, कर्मचारी ऐसे हैं, जिन्हें पांच साल से अधिक समय हो गया है तो कई ऐसे भी हैं जो दस साल बाद भी उसी जगह पर जमे हुए हैं। नियमानुसार देखा जाए तो तीन वर्ष बाद अधिकारी, कर्मचारी का स्थानांतरण कर दिया जाता है। एक तरफ जहां कई विभागों में अधिकारी एक वर्ष भी नहीं रहते। शहर के इन विभागों पर मानों शासन का ध्यान ही नहीं है, जिसके चलते उक्त विभागों में अधिकारी, कर्मचारी 5 से 10 सालों के बाद भी नहीं हटे हैं। यहां नियमानुसार थोक में इनके तबादले हो सकते है। इसके लिए प्रशासन को तीन साल में स्थानांतरण किए जाने वाले नियम के तहत कार्रवाई करना होगी, तभी यह संभव हो सकता है। पर यहां नियम कम कार्यकर्ता प्रथम आ रहा है, जो ब्लॉक कांग्रेस चाह रही है वो हो रहा है। कई ऐसे भी कांग्रेसमेन है जो चुनाव में पहले तक फूल छाप कांग्रेसी थे अब कलफ वाले कुर्ते में माहौल लूट रहे है। चरण वंदना पहले भाजपा में लागू थी पर कांग्रेस उससे चार कदम आगे नजर आ रही है।
यहां हैरत वाली बात ये है कि ये सब कमलनाथ की आंखों के सामने से हो रहा है और वे मुकदर्शक बने हुए है। यहां उलेखनीय होगा कि विज्ञापन के मामलों में भी भाजपा को चारों खाने चित करने में जुटे है कांग्रेसी विधायक औऱ मंत्री। जहां तहां फ्लेक्स वॉर छिड़ी हुई है आपस मे विज्ञापनो को लेकर मारकाट देखने को मिल रही है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो भाजपा पुनः अपने मूल वोटरों को आकर्षित कर इस कमलनाथ सरकार को किनारे लगा देगी।

About Akhilesh Dubey

Akhilesh Dubey

Check Also

BJP विधायक का बड़ा बयान- दिग्विजय को भोपाल से टिकट मिलने पर पाकिस्तान में बंट रही मिठाई

भोपाल: कांग्रेस ने बड़ा दांव खेलते हुए भोपाल लोकसभा सीट से दिग्विजय सिंह का नाम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *