Breaking News

घर को संस्कार ना दे सके… ब्राह्मण समाज को क्या संभालेंगे

*कठपुतली का मनोनयन*
सिवनी राष्ट्र चंडिका (अखिलेश दुबे)। समूचे देश में इन दिनों लोकसभा चुनाव की हलचल नजर आ रही है। ऐसे में एक समाज विशेष “सर्व ब्राह्मण समाज” के जिला अध्यक्ष का चुनाव अपनी कार्यप्रणाली और नए अध्यक्ष के मनोनयन को लेकर सामाजिक जागरूकता नों के बीच चर्चित और विवादित हो चला है। समाज के बुद्धिजीवी जो सांस्कृतिक रूप से ही बुद्धिमान माने जाते हैं कि बीच इस जिला ब्राह्मण  समाज के अध्यक्षीय मनोनयन को लेकर  दो धड़े में बटे नजर आ रहे हैं। नाम ना उजागर करने की शर्त पर उन्होंने  बेबाक प्रतिक्रिया व्यक्त की…….
उल्लेखनीय होगा कि सिवनी जिला ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष पद पर माननीय श्री ओम प्रकाश तिवारी का मनोनयन कर दिया गया है। समाज के लोगों में से कुछ का कहना है कि सर्वसम्मति से उनका मनोनयन सामाजिक बंधुओं की उपस्थिति में किया गया है वहीं दूसरी ओर कुछ बंधु कहने से नहीं चूक रहे हैं कि “बदमाश कंपनी” की पुनरावृत्ति ही है। बात की जाए राजनीतिक परिदृश्य की तो ओ पी तिवारी जी की छवि “दल बदलू” की है, कभी यह हरवंश साम्राज्य में कांग्रेस के झंडाबरदार  हुआ करते थे। रिक्शे पर बैठकर नुक्कड़ सभाएं किया करते थे आजकल वे उसे त्याग कर भारतीय जनता पार्टी का झंडा था में देखे जा रहे हैं।
माननीय तिवारी जी के चाहने वाले कहते हैं कि वह पिछले 5 सालों से समाज के सेक्रेटरी रहे तो उन्हें पद मिलना चाहिये। तो यह उनकी शैली का पुरस्कार माना जाए वहीं दूसरी ओर युवा उनसे नाराज है कि लगातार चंदा उगाही के बाद आज तक भगवान परशुराम नगर डूंडा सिवनी में सांसद और विधायक निधि से राशि उपलब्ध कराए जाने के बावजूद परशुराम नगर की बाउंड्री वाल तक नहीं बन पाई।
बात की जाए जिले के अन्य तहसीलों की ब्राह्मण संगठनों की तो बरघाट की ही चर्चा की जाए जहां के तत्कालीन अध्यक्ष और सचिव ने स्वयं की जमीन सामाजिक हितों के मद्देनजर समाज को दान कर दी जो वर्तमान बाजार मूल्य अनुसार करोड़ों की है। वहीं दूसरी ओर जिला मुख्यालय में दलबदल करने वाले अध्यक्ष वन क्या साबित करना चाहते हैं। जनता तो जनता है! कहने से नहीं चूकती जो खुद के घर को नहीं संभाल पाए वह अब समाज को क्या दिशा देंगे…..

About Akhilesh Dubey

Check Also

निर्धारित कीमत से ज्यादा कीमत में मिल रहे दूध, दही के पैकेट, कार्रवाई की मांग

*उत्पादों पर एमआरपी से अधिक की वसूली कर उपभोक्ताओं के साथ ठगी का खेल चल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *