Breaking News

धीमे रुझान के साथ खुले शेयर बाजार, 39 हजार से नीचे लुढ़का सेंसेक्स

शुरुआती कारोबार में बृहस्पतिवार को सेंसेक्स का रुझान धीमा रहा। इसकी अहम वजह अमेरिकी फेडरल रिजर्व का नीतिगत ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखना है जिससे वैश्विक बाजारों में नकारात्मक रुख देखा गया है। बीएसई का 30 कंपनियों वाला शेयर सूचकांक सेंसेक्स 100 अंक से ज्यादा गिरकर खुला लेकिन जल्द ही सुधरकर मामूली गिरावट के साथ 39,006.33 अंक पर चल रहा है।

वहीं एनएसई निफ्टी 14.65 अंक घटकर 11,733.50 अंक पर है। बुधवार को महाराष्ट्र दिवस के चलते शेयर बाजार बंद रहे थे। मंगलवार को सेंसेक्स 39,031.55 अंक और निफ्टी 11,748.15 अंक पर बंद हुआ था। ब्रोकरों के अनुसार बुधवार को अमेरिकी फेडरल रिजर्व के नीतिगत ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखने से वैश्विक स्तर पर शेयर बाजारों में कमजोर संकेत देखे गए। इसका असर घरेलू शेयर बाजारों पर भी देखने को मिला है।

शुरुआती कारोबार में निफ्टी के 100 शेयरों वाले स्मॉलकैप इंडेक्स और मिडकैप इंडेक्स में लाल निशान में कारोबार होते हुए देखा गया। सेंसेक्स और निफ्टी समेत ज्यादातर इंडेक्स में लाल निशान में कारोबार हो रहा है। तेल और गैस शेयरों में भी आज कमजोरी नजर आ रही है। बीएसई का ऑयल एंड गैस इंडेक्स 0.02 फीसदी की कमजोरी के साथ कारोबार कर रहा है।

वहीं शुरुआती कारोबार में यस बैंक के शेयर 3 फीसदी से अधिक बढ़त के साथ कारोबार करते नजर आए। इससे पहले मंगलवार के कारोबार में यस बैंक के शेयर करीब 30 फीसदी टूट गए थे। दरअसल, बीते दिनों यस बैंक ने 1506 करोड़ रुपये के घाटे की जानकारी दी है। पहली बार बैंक ने घाटा दर्ज किया है। इस घाटे की वजह फंसे हुए कर्ज हैं। इसके बाद मैक्वेरी, एडिलविस, एचएसबीसी और सिटी जैसी एजेंसियों ने बैंक की रेटिंग घटा दी है।

About Akhilesh Dubey

Check Also

SBI ग्राहकों को एक महीने में दूसरी बार मिला तोहफा, सस्ता हुआ होम-ऑटो लोन

नई दिल्लीः देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्‍टेट बैंक (SBI) ने ग्राहकों को एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *