Breaking News

“ट्रेड फेयर” में अव्यवस्थाओं और बदइंतिजामी की भेंट

*आकस्मिक  आपदा व चिकित्सा की कोई व्यवस्था नहीं है ट्रेड फेयर में
*असामाजिक गतिविधियां जारी हैं जैसे कि आवारा युवाओं का जमघट*
राष्ट्र चंडिका। सिवनी बड़े शहरों की तरह अब नगर में भी इन दिनों व्यापार मेला जिन्हें “ट्रेड फेयर” का नाम दिया जाता है के माध्यम से उपभोक्ताओं को लूटने का षड्यंत्र जारी हो चुका है हो रहा है कि किसी स्थानीय प्रायोजक जिसमें  कभी कभी  समाचार पत्र समूह भी सक्रिय हो जाते हैं। इन अस्थाई ट्रेड सेंटरों पर विभिन्न कंपनियों  को  कीमत की एवज में स्टाल आवंटित करते हैं यह कंपनियां बाजार कीमत से कम पर वस्तुएं उपलब्ध कराने का दावा करती है पर जब उपभोक्ता ऐसे फेयर (मेलों )में पहुंचते हैं तो वह ठगा सा रह जाते हैं। बताया जाता है कि इस ट्रेड फेयर के  स्टाल की दुकानों पर सामानों को देखने के पश्चात अगर न लिया जाता तो वहां के कर्मी उनसे अव्यवस्थाओं  और बदइंतिजामी  की भेंट चढ़ता बताया जा रहा है बताते हैं कि यहां सभी प्रकार की असामाजिक गतिविधियां जारी हैं जैसे कि आवारा युवाओं का जमघट रात्रि के समय देखी जा सकती है और तो और यही असामाजिक तत्व महिलाओं से छेड़खानी भी करते देखे जा रहे हैं आयोजन और पुलिस इससे अनजान नहीं है । उन्हें तो बस अपने लाभ की फिक्र है कानून व्यवस्था जाए ,,, में अभी अभी चुनाव की खुमारी से उभरते पुलिस प्रशासन से दरकार है कि इस और  प्रभावी कदम उठाएं।
   आकस्मिक  आपदा व चिकित्सा की कोई व्यवस्था नहीं है ट्रेड फेयर में-  एक बात और जो यह कि इस ट्रेड फेयर के साथ मनोरंजन के लिए झूले खानपान के स्टाल आदि भी चल रहे हैं ध्यान दें कि यदि इन साधनों से यदि कोई आकस्मिक दुर्घटना घट जाए गर्मी में अग्नि का प्रकोप हो जाए तो उससे निपटने के आपदा प्रबंधन के कोई इंतजाम नहीं है साथ ही आकस्मिक चिकित्सा की भी कोई व्यवस्था नहीं है जबकि जनता की गहमा-गहमी छुट्टियों के चलते बढ़ चली है

About Akhilesh Dubey

Check Also

मेगा ट्रेड के बाहरी व्यापारियों ने नहीं कराया मुसाफिरी दर्ज

माने तो मेगा ट्रेड फेयर के संचालक अपने आपको उच्च स्तरीय एप्रोच वाला समझते हैं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *