Breaking News

ममता दीदी की तानाशाही के खिलाफ जंतर-मंतर पर BJP का विरोध प्रदर्शन, शाह करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

नई दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के मंगलवार को कोलकाता शहर में हुए विशाल रोड शो के दौरान भाजपा और तृणमूल कांग्रेस समर्थकों के बीच हिंसक झड़पें हुईं। हालांकि शाह को किसी तरह की चोट नहीं आई और पुलिस उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले गई। वहीं शाह रोड शो में हुई हिंसा और झड़प पर बुधवार को दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। साथ ही भाजपा कार्यकर्त्ता दिल्ली के जंतर-मंतर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तानाशाही के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे। रोड शो में हिंसा के मुद्दे पर भाजपा नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार देर रात चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, अनिल बलूनी, जीवीएल नरसिम्हा राव सरीके नेताओं ने चुनाव आयोग से मुलाकात की। वहीं, ममता बनर्जी भी इस मुद्दे पर आक्रामक है। वह भी बुधवार को बंगाल की राजधानी कोलकाता में पदयात्रा करेंगी। मंगलवार को भी वह हिंसा वाली जगह देर रात में पहुंची थीं। ममता ने साफ कर दिया है कि वह इस लड़ाई में पीछे नहीं हटने के मूड में नहीं हैं।उल्लेखनीय है कि मंगलवार को शाह के रोड शो के दौरान विद्यासागर कॉलेज के भीतर से टीएमसी के कथित समर्थकों ने शाह के काफिले पर पथराव किया जिससे दोनों पार्टियों के समर्थकों के बीच झड़प हुई। गुस्साए भाजपा समर्थकों ने भी उसी तरह प्रतिक्रिया दी और कॉलेज के प्रवेशद्वार के बाहर टीएमसी प्रतिद्वंद्वियों के साथ मारपीट करते नजर आए। बाहर खड़ी कई मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया गया।

शाह ने एक टीवी चैनल से कहा, “टीएमसी के गुंडों ने मुझ पर हमला करने की कोशिश की। ममता बनर्जी (पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री) ने हिंसा भड़काने का प्रयास किया। लेकिन मैं सुरक्षित हूं। शाह ने कहा कि झड़पें होने के दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही। ममता बनर्जी ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए शाह को गुंडा बताया। बता दें पश्चिम बंगाल में 19 मई को आखिरी चरण में भी मतदान होना है। उससे पहले 6 चरणों में हुए मतदान के दौरान राज्य में जमकर हिंसा हुई।

About Akhilesh Dubey

Check Also

2019 में मोदी सरकार की जबरदस्त वापसी, इन कारणों से हारी कांग्रेस

नई दिल्ली: भाजपा की जबरदस्त जीत के आगे देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस इस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *