Breaking News

सोशल मीडिया की रानी-स्मृति ईरानी

नई दिल्ली: मोदी की जीत का डंका तो सोशल मीडिया पर सारा दिन बजता ही रहा और लगातार लोग अलग-अलग हैशटैग्स के साथ ट्वीट करते रहे लेकिन दो ट्रेंड ऐसे रहे जो पूरा दिन टॉप 10 में बने रहे और देर रात तक लोग इन्हें लेकर ट्वीट करते रहे। इनमें से एक था ‘अमेठी’ और दूसरा था ‘स्मृति ईरानी’। अमेठी में स्मृति ईरानी की जीत हर लिहाज से बहुत बड़ी मानी जा रही है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हराया।

स्मृति ईरानी को लेकर कौतुहल की स्थिति थी बालीवुड
स्मृति ईरानी को लेकर न केवल भाजपा, कांग्रेस व मीडिया में बल्कि सारे बालीवुड में भी कौतुहल की स्थिति थी। स्मृति ईरानी को टीवी पर दो दशक पहले ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ के माध्यम से ब्रेक देने वाली एकता कपूर तो सुबह से ही टीवी खोलकर बैठ गई थी। कुछ माह पहले सिंगल पेरेंट बनी एकता ने इंस्टाग्राम व ट्विटर पर अपने बेटे रवि को गोद में लिए हुए एक फोटो पोस्ट की जिसमें टीवी पर नतीजे नजर आ रहे थे। इसमें एकता ने लिखा कि सबकी नजरें अमेठी पर हैं। बाद में जब ईरानी की जीत निश्चित होने लगी तो उन्होंने ट्वीट किया कि दुनिया में आज सबसे खुश इंसान उनके पिता (जीतेंद्र) हैं। फिर एकता ने मोदी को शानदार जीत पर बधाई देने वाला ट्वीट किया और उन्हें देश का सबसे बड़ा नेता बताया। बाद में शाम को एकता ने स्मृति के साथ एक पुरानी फोटो पोस्ट करते हुए ट्वीट किया- ‘रिश्तों के भी रूप बदलते हैं, नये नये सांचे में ढलते हैं, एक पीढी आती है एक पीढी जाती है…बनती कहानी नई।’

विवेक ओबराय ने ईरानी को दी बधाई
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की जीत को ट्विटर ने अपने ‘ट्विटर मूमेंट्स’ में शुमार किया और एक अलग पेज इस बारे में किए जा रहे ट्वीट्स को लेकर क्रिएट किया। इसमें एक के बाद ईरानी की जीत को लेकर किए जा रहे ट्वीट शामिल किए गए। हमेशा मोदी व भाजपा को निशाने पर रखने वाली पत्रकार राणा अय्यूब ने ट्वीट किया कि राहुल की अमेठी में हार मोदी की जीत से बड़ी स्टोरी है। फिल्म अभिनेता विवेक ओबराय ने ईरानी को बधाई देते हुए ट्वीट किया और लिखा कि अमेठी के लोगों के साथ ‘अब न्याय होगा’। वरिष्ठ पत्रकार माधवन नारायणन ने ट्वीट किया कि अब पता चला कि वायनाड क्यों तस्वीर में आया। उन्हें (कांग्रेस) पता था कि अमेठी में क्या होने वाला है लेकिन वे बताने से शरमा रहे थे। अंत में शाम साढ़े पांच स्मृति ईरानी ने हिन्दी के यशस्वी रचनाकार दुष्यंत की प्रसिद्ध पंक्ति का स्मरण किया ‘कौन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो सकता’। परिणाम घोषित होने से पहले ही कांग्रेस अध्यक्ष ने अपनी हार को स्वीकार करते हुए ईरानी को इस सीट पर जीत के लिए बधाई दे दी। गांधी की इस बधाई के बाद ही स्मृति ने दुष्यंत के इस मशहूर शेर की पंक्ति को ट््वीट किया। दुष्यंत का प्रेरणादायक यह पूरा शेर इस प्रकार है- ‘कौन कहता है कि आसमां में सुरा$ख हो नही सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारों।’’

प्रियंका को भी नहीं बख्शा
ट्विटर पर स्मृति ईरानी के प्रशंसकों ने कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को लेकर भी ट्वीट किए। सबसे ज्यादा तो वो वीडियो क्लिप शेयर की गई जिसमें प्रियंका ने ईरानी के बारे में मीडिया द्वारा सवाल किए जाने पर ये कह दिया था कि हू (कौन)? लोगों ने ट्वीट किया कि अब तो प्रियंका जान गई होंगी कि ईरानी कौन हैं?

सिद्धू राजनीति कब छोड़ रहे हैं? 
स्मृति ईरानी की जीत को लेकर तरह-तरह के मीम भी सोशल मीडिया पर शेयर किए जाते रहे। इनमें सबसे हिट था नवजोत सिंह सिद्धू के बयान का स्क्रीन शॉट। दरअसल सिद्धू ने पिछले दिनों अमेठी में प्रचार के दौरान यह कह दिया था कि अगर राहुल गांधी अमेठी से हार गए तो वे राजनीति छोड़ देंगे। उनके इसी बयान के स्क्रीन शॉट को खूब शेयर किया गया।  लोगों ने लिखा कि लीजिए राहुल हार गए अब सिद्धू कब संन्यास ले रहे हैं?

About Akhilesh Dubey

Check Also

UP में है जंगल राज, कानून-व्यवस्था पूरी तरह फेल: अखिलेश

मैनपुरी: समाजवादी पार्टी (SP) अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *