Breaking News
Home / मध्यप्रदेश / इंदौर / चमकी का कहर: कन्हैया कुमार ने किया SKMCH का दौरा

चमकी का कहर: कन्हैया कुमार ने किया SKMCH का दौरा

बिहार में चमकी बुखार से हो रही मौ’तों पर नेताओं की निंद अब धीरे-धीरे खुल रही है। इसपर कम्युनिस्ट पार्टी के नेता Kanhaiya Kumar आज 3 हफ्ते बाद जागे हैं।

आज Kanhaiya Kumar ने मुजफ्फरपुर जा कर Sri Krishna Medical College & Hospital का दौरा दिया।

Kanhaiya Kumar का इतने दिनों बाद मुजफ्फरपुर जाना कई सवाल खड़े करता है क्योंकि वो खुद बिहार के बेगुसराय के रहने वाले हैं।

ANI

@ANI

Bihar: Communist Party of India’s Kanhaiya Kumar visits SKMCH Hospital in Muzaffarpur where 108 people have died due to Acute Encephalitis Syndrome (AES).

View image on Twitter
54 people are talking about this

बड़े लोगों के आने-जाने से अस्पताल में मरीजों के साथ डॉक्टरों को भी काफी मु’श्किलों का सामना करना पड़ता है।उनके साथ भीड़ भी आ जाती है जिससे मरीजों की अस्पताल में आवाजाही प्रभा’वित होती है।

एक ओर जहां नेता सिर्फ आते हैं औऱ हालात पर अफसोस जता कर चले जाते हैं वहीं दूसरी ओर ऐसे लोग भी हैं जो अब शिकायतें छोड़ मदद के लिए आगे आ रहे हैं।

जन अधिकार छात्र परिषद के सदस्य चमकी बुखार (Acute Encephalitis Syndrome AES) से प्रभा’वित बच्चों के इलाज लिए जूते पॉलिश कर पैसे जुटा रहे हैं।

ये काम कर रहे छात्र परिषद के एक सदस्य ने मोदी पर निशा’ना सा’धते हुए कहा -‘ ‘देश भर में योग दिवस समारोह में करोड़ों खर्च किए जा रहे हैं, हम जूते पॉलिश कर पैसे इकट्ठा करेंगे और बच्चों के लिए देंगे। ‘

ऐसी ही एक मिसाल कल देखने को मिली थी जहां एक डॉक्टर फ्री में इलाज कर रहे हैं-

डॉक्टर कफील को आप भूले नहीं होंगे। ये वहीं हैं जो 2017 में गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौ’त बाद चर्चा में आए थे।इस घटना के बाद योगी सरकार ने उन पर लापरवाही के आ’रोप लगाकर जे’ल में डाल दिया था। फिलहाल डॉ.कफील एक बार फिर से चर्चा में हैं । वह बिहार के मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौ’त के बाद अब खुद वहां पहुंचकर फ्री इलाज कर रहे हैं।

बता दें कि बिहार में चमकी बुखार के कहर से 150 से ज्यादा बच्चों की मौ’त हो चुकी है जबकि अभी भी हॉस्पीटल में सैकड़ों बच्चे इलाज के लिए पहुंचे हैं लेकिन दवाओं और डॉक्टर की कमी के कारण उन्हें इलाज नहीं मिल पा रहा है।इस बीच डॉ.कफील खुद वहां पहुंचकर बी’मार बच्चों का इलाज कर रहे हैं।

About Akhilesh Dubey

Check Also

फिनलैंड की सना मारिन बनीं दुनिया की सबसे युवा प्रधानमंत्री, जानिए- उनके बारे में कुछ खास बातें

नई दिल्‍ली। सिर्फ 34 साल की उम्र में प्रधानमंत्री! जी हां, सना मारिन फिनलैंड की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *