Wednesday , December 11 2019
Breaking News
Home / देश / बंद के ऐलान पर सुबह ही सड़कों पर उतरा रविदास भाईचारा,जालंधर-दिल्ली हाईवे जामबंद के ऐलान पर सुबह ही सड़कों पर उतरा रविदास भाईचारा,जालंधर-दिल्ली हाईवे जाम

बंद के ऐलान पर सुबह ही सड़कों पर उतरा रविदास भाईचारा,जालंधर-दिल्ली हाईवे जामबंद के ऐलान पर सुबह ही सड़कों पर उतरा रविदास भाईचारा,जालंधर-दिल्ली हाईवे जाम

जालंधर: सुप्रीम कोर्ट के अतिक्रमण हटाने के आदेश पर दिल्ली विकास प्राधिकरण (डी.डी.ए.) द्वारा पुलिस बल के साथ तुगलकाबाद के वन क्षेत्र में स्थित गुरु रविदास जी महाराज के मंदिर को तोड़ने के विरोध में पंजाब में किए गए बंद के ऐलान के बाद रविदास समुदाय के लोगों ने सुबह ही दिल्ली-जालंधर हाईवे पर जाम लगा दिया। पुलिस के समझाने पर गुस्साए लोगों ने 20 मिनट के लिए जाम खोल दिया,जिसके चलते दिल्ली की तरफ जाने वाली बसों और अन्य वाहनों की आवाजाही को सामान्य किया गया। इसके बाद प्रदर्शन कर रहे लोगों ने फिर से जाम लगा दिया। बंद का सबसे ज्यादा असर जालंधर तथा लुधियाना में देखने को मिला।

 बीते शनिवार से मंदिर तोड़े जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे रविदास भाईचारे के लोग बंद के आह्वान पर भारी बारिश में भी सुबह ही सड़कों पर उतर आए। अलग-अलग टोलियों में बंट कर इन लोगों ने शहर के विभन्न हिस्सों में जाम लगा दिया,जिससे शहर की यातायात व्यवस्था चरमरा गई। गौरतलब है कि इन लोगों के आंदोलन और बंद को कांग्रेस भी समर्थन दे रही है।   इस कारण पंजाब भर में सभी शैक्षणिक तथा अन्य विभागों में सरकार द्वारा छुट्टी का ऐलान किया है। रविदास भाईचारे के प्रदर्शन के चलते यहां पुलिस द्वारा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। वहीं बंद के कारण लोगों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। ऊपर से लगातार हो रही बारिश ने भी लोगों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है।

पंजाब कांग्रेस ने किया बंद का समर्थन
कांग्रेस की पंजाब इकाई के प्रमुख सुनील जाखड़ ने भी रविदास समुदाय के प्रति अपनी पार्टी का समर्थन जताया लेकिन उनसे यह सुनिश्चित करने की अपील की कि उनके प्रदर्शनों के चलते आम लोग न प्रभावित हों। यहां सोमवार को जारी एक बयान में जाखड़ ने कहा कि पार्टी समुदाय के साथ है और इस ऐतिहासिक स्थल के पुन: आबंटन और मंदिर के पुनर्निर्माण के मामले को आगे बढ़ाने में हरसंभव मदद करेंगे। हालांकि लोक हित में उन्होंने विरोध प्रदर्शनों की अगुवाई कर रहे गुरु रविदास जयंती समारोह समिति से सड़कों एवं राजमार्गों को अवरोधित नहीं करने की अपील की ताकि यात्रियों को परेशानी न हो।

कई राजमार्ग अवरोधित
इससे पहले लुधियाना, जालंधर, फगवाड़ा, गुरदासपुर और अमृतसर में प्रदर्शनकारियों ने राज्य के कई राजमार्गों को अवरोधित किया जिससे यात्रियों को मुश्किलें उठानी पड़ी। इस बीच केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री एवं होशियारपुर के सांसद सोम प्रकाश ने मंदिर गिराए जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि वह मामले को सुलझाने के लिए दिल्ली के उपराज्यपाल और जरूरत पडऩे पर प्रधानमंत्री से भी मुलाकात करेंगे। नई दिल्ली के लिए सोमवार को रवाना होने से पहले फगवाड़ा स्थित अपने आवास पर बुलाए संवाददाता सम्मेलन में सोम प्रकाश ने कहा कि मंदिर गिराए जाने ने न सिर्फ दलितों बल्कि समाज के सभी वर्गों की धार्मिक भावनाओं को आहत किया है।

पंजाब में मामले ने पकड़ा तूल
उल्लेखनीय है कि पंजाब में इस मामले ने विकराल रूप धारण कर लिया है। यहां के सभी जिलों में दिल्ली और केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किए जा रहे हैं। मंदिर तोड़ने के विरोध में रविदास भाईचारे ने आज बंद करने  के ऐलान के साथ ही 15 अगस्त को काला दिवस मनाने का ऐलान किया है। इसी दिन जालंधर के रास्ते बंद रखे जाएंगे,जिससे अन्य जिलों और राज्यों से आने-जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। आपको बता दें कि शनिवार और रविवार को भी पंजाब के अलग-अलग जिलों में रविदासिए समुदाय के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया था।

About Akhilesh Dubey

Check Also

नागरिकता बिल पर शिवसेना का यू टर्न, राउत बोले- बदल सकते हैं हम अपना स्टैंड

शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) पर उच्च सदन में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *