Breaking News
Home / मध्यप्रदेश / भोपाल / शिवराज को चापलूस कहने पर भड़के पूर्व मंत्री, पटवारी को सलाह देते हुए कही बड़ी बात

शिवराज को चापलूस कहने पर भड़के पूर्व मंत्री, पटवारी को सलाह देते हुए कही बड़ी बात

भोपाल: कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को चापलूस कहने पर सियासत काफी तेज हो गई है। बीजेपी नेता शिवराज का समर्थन करते हुए जीतू और कांग्रेस पर जमकर हमला बोल रहे है। दरअसल, शिवराज पर जीतू ने हमला बोलते हुए ट्वीट किया था जिस पर अब बीजेपी के पूर्व मंत्री रामपाल सिंह ने जीतू पर पलटवार करते हुए अपने पद की गरिमा का ख्याल रखने की सलाह दी है, साथ ही सोनिया और कमलनाथ के पैर धोकर चरणामृत पीने की बात कही है।

चरणामृत पिए, पर ऐसी बयानबाजी न करें
आपको बता दें कि सोमावार को मीडिया से चर्चा के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने पर पीएम मोदी और शाह की तारीफ करते हुए कहा था कि था कि मैं पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को अपना नेता मानता था लेकिन उनके इस फैसले के बाद अब मैं उनकी पूजा करता हूं। जिसके बाद जीतू पटवारी ने शिवराज पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया और उन्हें चापलूस कह दिया। जिसके बाद से सियासत गर्मा गई है। शिवराज सरकार में मंत्री रहे रामपाल भड़क गए और उन्होंने कहा कि पटवारी सोनिया गांधी और कमलनाथ का चरणामृत पिए, पर ऐसी बयानबाजी न करें। उन्होंने पटवारी को नसीहत देते हुए कहा कि जीतू मंत्री पद की गरिमा का ख्याल रखें।

जीतू पटवारी का शिवराज पर ट्वीट
पटवारी ने ट्वीटर करते हुए कहा कि शिवराज जी, आप भाजपा में अपनी “साख” खत्म होने के डर से उसे बचाने के लिए मोदी-शाह की पूजा तो क्या उनके पैर धोके पानी पियो तो भी हमें कतई आपत्ति नहीं। लेकिन देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू जी पर टिप्पणी बार बार टिप्पणी आपके “मानसिक दिवालियापन” को दर्शा रहा है। जीतू ने कहा कि मप्र की सत्ता से बेदखल होने के बाद बीजेपी में अपना “अस्तित्व” बचाने के लिए मोदी-शाह की चापलूसी में मशगूल शिवराज जी मप्र की मर्यादा का ख्याल रखें।

About Akhilesh Dubey

Check Also

दिग्विजय सिंह ने कहा- बापू हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिंदा हैं, BJP ने किया पलटवार

भोपाल: स्वतंत्रता दिवस, के मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के एक विवादित ट्वीट से मध्यप्रदेश की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *