Breaking News
Home / राज्य / उत्तरप्रदेश / बड़ी खबर: रेप आरोपी चिन्मयानंद को SIT ने किया गिरफ्तार

बड़ी खबर: रेप आरोपी चिन्मयानंद को SIT ने किया गिरफ्तार

शाहजहांपुर: अपने ही कॉलेज की छात्रा के दुष्कर्म के आरोपों से घिरे पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री चिन्मयानंद को आखिरकार एसआईटी ने गिरफ्तार कर लिया है।जिन्हें आज ही एसआईटी कोर्ट में भी पेश कर सकती है। इस मामले में एसआईटी उनसे फिर से पूछताछ करेगी।

इससे पहले  चिन्मयानंद  गुरुवार को मेडिकल कॉलेज से सीधे दिव्य धाम पहुंच गए। डॉक्टरों की टीम ने लखनऊ किंगजार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय (केजीएमसी) रेफर करने की तैयारी कर ली थी, लेकिन उन्होंने वहां जाने से इंकार कर दिया।

उन्होंने अपना इलाज आयुर्वेद पद्धति से कराने की बात कही है। जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक एमपी गंगवार ने बताया कि चिन्मयानंद के दिल में दिक्कत थी। एंजियोग्राफी कराई गई थी ,जिससे उनके हाटर् में ब्लड सप्लाई ठीक से न हो पाने की समस्या बताई जा रही है। उनके बेहतर इलाज और जांच लखनऊ के केजीएमसी रेफर करने की सलाह दी थी। उन्होंने लिखकर दिया कि वह आयुर्वेद दवा से अपना इलाज करायेंगे।

गौरतलब है कि पीड़िता के 164 के बयान के बाद स्वामी चिन्मयानंद का स्वास्थ्य सोमवार को अचानक बिगड़ गया था। मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने उनके दिव्य धाम पहुंचकर उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया था। बुधवार को उनका स्वास्थ्य ज्यादा बिगड़ने के कारण उन्हें राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था । जहां डॉक्टरों की टीम उनका स्वास्थ्य उपचार कर रही थी। पीड़ित छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर योन शोषण के गंभीर आरोप लगाये थे। छात्रा का आरोप है कि गिरफ्तारी के डर से स्वामी बीमारी का बाहना रहे हैं। छात्रा ने धमकी दी कि अगर उनके खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार नहीं किया तो वह आत्मदाह कर लेगी। छात्रा मामले की जांच कर रही एसआईटी और जिलाधिकारी पर पहले ही गंभीर आरोप लगा चुकी है। छात्रा का आरोप है जांच टीम आरोपी को बचाने में लगी है और जिस कमरे में उसका शौषण किया गया था वहां से सबूत भी हटा दिए गये हैं।

About SMC Web Solution

Check Also

कमलेश तिवारी हत्याकांड: CM योगी से मिलने लखनऊ रवाना हुए परिजन

लखनऊः हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी के परिजन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *