Breaking News
Home / देश / अनुच्छेद 370 पर बोले राजनाथ सिंह- यह नासूर की तरह था, इससे कश्मीर में केवल खून बहा

अनुच्छेद 370 पर बोले राजनाथ सिंह- यह नासूर की तरह था, इससे कश्मीर में केवल खून बहा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अनुच्छेद 370 पर बोलते हुए इसे नासूर बताया और कहा कि इसने हमारे दिल में केवल घाव दिए। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 की वजह से कश्मीर में केवल खून बहा। पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जहां तक अनुच्छेद 370 का सवाल है, यह संविधान में एक नासूर (कैंसर का घाव) था, जिसने हमारे हृदय और इस धरती के स्वर्ग यानी की हमारे कश्मीर को केवल रक्त दिया।

राजनाथ ने आगे कहा कि हर कोई सपना देखता है। लोग कहते हैं कि वे सपने देखते हैं, लेकिन वह सच नहीं हो पाता है, लेकिन हमारे पीएम नरेंद्र मोदी ने इसे पूरा किया और दिखाया कि हम भी सपने देखते हैं लेकिन हम आँखें खोलकर देखते हैं।
PunjabKesari
रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान को चेताया
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को ” 1965 और 1971 की गलतियों को न दोहराने ” की चेतावनी देते हुए रविवार को कहा कि जिस तरह से वहां मानवाधिकारों का उल्लंघन हो रहा है और आतंकवाद पनप रहा है, उसे विघटित होने से कोई नहीं रोक सकता है।

भाजपा द्वारा यहां आयोजित “जन जागरण सभा” को संबोधित करते हुए राजनाथ ने कहा कि अनुच्छेद 370 एक “कैंसर” की तरह था जो कि वहां खून बहा रहा था। रक्षा मंत्री ने पडोसी देश पाकिस्तान को ”1965 और 1971 की गलतियों को न दोहराने ” की चेतावनी देते हुए रविवार को कहा कि जिस प्रकार वहां मानवाधिकारों का उल्लंघन हो रहा है और वहां आतंकवाद पनप रहा है, उससे पाक को विघटित होने से कोई नहीं रोक सकता है।

रक्षा मंत्री ने पड़ोसी देश को जम्मू-कश्मीर के घटनाक्रम के मद्देनजर सीमा पार से आतंकवाद को बढ़ावा देने के खिलाफ आगाह किया और कहा कि पाकिस्तान के साथ बातचीत तभी शुरू होगी जब वह आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद कर देगा। मंत्री ने कहा कि उसे यह भी ध्यान रखना चाहिए कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और बातचीत केवल पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर पर हो सकती है।

About Akhilesh Dubey

Check Also

Haryana Election: प्रत्याशियों और स्टार प्रचारकों ने दिखाया दम, मतदाताओं की बारी आज

हरियाणा के चुनाव रण में प्रत्याशियों, उनके समर्थक नेताओं व कार्यकर्ताओं और स्टार प्रचारकों ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *