Breaking News

1064 रुपए की कमाई PM मोदी को भेजने वाले किसान के दर पर पहुंचा PMO

मुंबईः महाराष्ट्र के प्याज उपजाने वाले एक किसान को अपनी उपज एक रुपए प्रति किलोग्राम से कुछ अधिक की दर पर बेचनी पड़ी और उसने अपना विरोध दर्ज कराने के लिए अपनी कमाई प्रधानमंत्री को भेज दी थी। इसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय हरकत में आया और नाराज किसान से संपर्क कर पूरा हाल जाना। पीएमओ ने किसान संजय साठे से संपर्क करने के लिए नासिक कलेक्टर से बात की और साठे की समस्या जानी। बताया जा रहा है कि इलाके के डिप्टी कलेक्टर शशिकांत मंगरुले जल्द ही संजय के घर जाएंगे और उनसे मुलाकात तक उनकी समस्या की जानकारी लेंगे। कलेक्टर इस मुलाकात और किसान की समस्या की पूरी रिपोर्ट पीएमओ को भेंजेंग।

ये है पूरा मामला
नासिक जिले के निफाड तहसील के निवासी संजय साठे उन कुछ चुनिंदा ‘‘प्रगतिशील किसानों’’ में से एक है जिन्हें केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा से 2010 में उनकी भारत यात्रा के दौरान संवाद के लिए चुना था। साठे ने रविवार को बताया कि उन्होंने इस मौसम में 750 किलोग्राम प्याज उपजाई लेकिन गत सप्ताह निफाड थोक बाजार में एक रुपए प्रति किलोग्राम की दर की पेशकश की गई। उन्होंने कहा कि अंतत: मैं 1.40 रुपए प्रति किलोग्राम का सौदा तय कर पाया और मुझे 750 किलोग्राम के लिए 1064 रुपए प्राप्त हुए।
उन्होंने कहा कि चार महीने के परिश्रम की मामूली वापसी प्राप्त होना दुखद है। इसलिए मैंने 1064 रुपए पीएमओ के आपदा राहत कोष में दान कर दिए। मुझे वह राशि मनीआर्डर से भेजने के लिए 54 रुपए अलग से देने पड़े। उन्होंने कहा कि मैं किसी राजनीतिक पार्टी का प्रतिनिधित्व नहीं करता। लेकिन मैं अपनी दिक्कतों के प्रति सरकार की उदासीनता के कारण नाराज हूं। मनीआर्डर 29 नवम्बर को भारतीय डाक के निफाड कार्यालय से भेजा गया। वह ‘‘नरेंद्र मोदी, भारत के प्रधानमंत्री’’ के नाम प्रेषित किया गया। बता दें कि पूरे भारत में जितनी प्याज होती है उसमें से 50 प्रतिशत उत्तर महाराष्ट्र के नासिक जिले से आती है।

About Akhilesh Dubey

Check Also

जेट एयरवेज पर एक और संकट, कंपनी के CFO अमित अग्रवाल ने दिया इस्तीफा

मुंबईः वित्तीय समस्याओं के चलते अस्थाई रूप से बंद हुई जेट एयरलाइंस के डेप्युटी चीफ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *