Breaking News
Home / टेक्नोलॉजी / कोरोना वायरस को लेकर व्हाट्सएप पर भेजे जा रहे फर्जी मैसेज, सतर्क रहने की है जरूरत

कोरोना वायरस को लेकर व्हाट्सएप पर भेजे जा रहे फर्जी मैसेज, सतर्क रहने की है जरूरत

दुनिया भर के लिए इस वक्त कोरोना वायरस एक बहुत ही बड़ी चिंता का विषय बना हुआ है। ऐसे में व्हाट्सएप पर कोरोना वायरस को लेकर फर्जी मैसेज भेजे जा रहे हैं जिनमें इस बीमारी के इलाज के अजीबो गरीब तरीके बताए गए हैं। व्हाट्सएप पर मैसेजिस के जरिए फर्जी जानकारियां यूजर्स तक पहुंचाई जा रही हैं ऐसे में अब आपको सावधान रहने की सख्त जरूरत है। कुछ ऐसे ही व्हाट्सएप मैजेजिस के बारे में आज हम आपको बताएंगे जिन पर आपने बिलकुल भी ध्यान नहीं देना है, क्योंकि ये फेक हैं।

1.व्हाट्सएप पर एक फेक मैसेज बहुत तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें कहा गया है कि गर्म पानी से नहाने से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। इस मैसेज पर बिल्कुल विश्वास न करें क्योंकि किसी भी डॉक्टर या हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने इस बात पुष्टि नहीं की है कि गर्म पानी से नहाने से कोरोना वायरस का खतरा कम होता है।

2.दूसरे मैसेज में कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस कोरियर या पार्सल रिसीव करने से भी फैल सकता है। इस मैसेज पर भी विश्वास ना करें और न ही इसे आगे फर्वर्ड करें।

3.मच्छरों के काटने से यह वायरस फैलने वाला मैसेज गलत है। अभी तक किसी डॉक्टर, वैज्ञानिक या रिसर्चर ने कोरोना वायरस इंफेक्शन के मच्छरों के काटने से फैलने की बात नहीं की है। अगर आपके फोन में इस तरह का कोई मैसेज आता है तो उसे डिलीट कर दें।

4.व्हाट्सएप मैसेजिस में कहा जा रहा है कि शरीर पर ऐल्कॉहॉल या क्लोरीन के छिड़काव से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। यह मैसेज बिल्कुल गलत है। अगर आपको कोई ऐसा मैसेज भेजता है तो सैंडर को मैसेज या कॉल कर इस मैसेज के फर्जी होने की जानकारी दें।

5.पालतू जानवर से कोरोना के फैलने वाला मैसेज भी गलत है। अब तक ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं आई है जिसमें कहा गया हो कि पालतू जानवरों को छूने या उनके साथ खेलने से कोरोना वायरस फैलता है।

6.इनके अलावा व्हाट्सएप पर कई ऐसे फर्जी मैसेज आ रहे हैं जिनमें कोरोना वायरस से बचाव के गलत तरीके बताए गए हैं। इन मैसेजिस से सावधान रहें और अपने परिजनों को भी इस बारे में सही जानकारी दें।

About Akhilesh Dubey

Check Also

Paytm यूजर्स हो जाएं सावधान! ये फोन कॉल खाली कर सकते हैं आपका अकाउंट

पेटीएम भुगतान बैंक (पीपीबी) ने गृह मंत्रालय, ट्राई और सीईआरटी-इन को 3,500 फोन नंबरों की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *