Thursday , April 19 2018
Breaking News
Home / राज्य / मध्यप्रदेश / बालाघाट / जैविक कृषक सम्मेलन को लेकर कृषि मंत्री ने ली सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं की बैठक

जैविक कृषक सम्मेलन को लेकर कृषि मंत्री ने ली सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं की बैठक

 बालाघाट।  07 से 09 मार्च 2018 तक बालाघाट में जैविक एक्सपो-2018 का आयोजन किया जा रहा है। तीन दिवसीय इस राज्य स्तरीय आयोजन में कृषकों को जैविक खेती की नवीनतम तकनीक, जैविक उत्पाद, उन्न्त कृषि उपकरण, आदि का जीवंत प्रदर्शन किया जायेगा। इस आयोजन के दौरान बड़ी संख्या में प्रदेश के सभी जिलों से जैविक खेती करने वाले प्रगतिशील किसान और जैविक उत्पाद क्रय करने वाली कंपनियां भी बालाघाट आयेंगी। इस मेले का शुभारंभ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एवं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह की उपस्थिति में किया जायेगा। इस मेले में किसानों से सीधा संवाद कायम करने एवं उन्हें जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित करने आर्ट आफ लिविंग के प्रणेता एवं आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर जी भी बालाघाट पधार रहे है।
इस मेले के सफल आयोजन के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। इसी कड़ी में मध्यप्रदेश शासन के किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन ने आज 06 मार्च को सर्किट हाउस बालाघाट में जिले के सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों एवं संस्थाओं की बैठक लेकर उनसे इस आयोजन में सहयोग करने की अपील की। कृषि मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि बालाघाट जिले के लिए यह गर्व की बात है कि आध्यात्मिक गुरू एवं आर्ट आफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर जी बालाघाट पधार रहे है। श्री श्री रविशंकर जी द्वारा जैविक कृषि के क्षेत्र में अनेक कार्य किये गये है। उनके बालाघाट आगमन एवं उनके सानिध्य का लाभ बालाघाट जिले के किसानों को भी मिलेगा।
मंत्री श्री बिसेन ने कहा है कि बालाघाट में राज्य स्तरीय जैविक कृषि मेले का आयोजन एक बहुत बड़ी उपलब्धि है और बालाघाट जिले के लिए गर्व की बात है। इस आयोजन को सफल बनाने में समाज के हर वर्ग को सहयोग करना चाहिए। मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि इस कार्यक्रम में किसानों के लिए जैविक कृषि के साथ ही आध्यात्मिक सम्मेलन का भी आयोजन किया जा रहा है।
जैविक एवं आध्यात्मिक कृषक सम्मेलन के दौरान 170 स्टाल लगाए जा रहे हैं। मेले में आने वाले किसानों के लिए भोजन की व्यवस्था मुलना स्टेडियम ग्राउंड में रहेगी। इस ग्राउंड में 12 भोजन शालायें बनायी जाएगी। इस मेले के दौरान एक लाख लोगों के भोजन का इंतजाम किया गया है। इस मेले में प्रतिदिन 30 हजार लोगों के आने का अनुमान है। इस आयोजन में 11 वैज्ञानिक भी शामिल होने आ रहे हैं, जो जैविक कृषि पर किसानों के समक्ष अपने विचार रखेंगे और किसानों को जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित करेंगे।

Click Here

About

Check Also

प्रदेश में 67 अनुसूचित नियोजनों के श्रमिकों की पुनरीक्षित मासिक और दैनिक दरें घोषित

Share this on WhatsAppबालाघाट। न्यूनतम वेतन अधिनियम 1948 के अंतर्गत प्रदेश में 67 अनुसूचित नियोजनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *