Thursday , April 19 2018
Breaking News
Home / राज्य / मध्यप्रदेश / मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना का शुभारंभ, किसानों को 49 करोड़ की प्रोत्साहन राशि वितरित

मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना का शुभारंभ, किसानों को 49 करोड़ की प्रोत्साहन राशि वितरित

भोपाल। प्रदेश की पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री ललिता यादव ने आज दोपहर छतरपुर के सटई रोड स्थित कृषि उपज मंडी प्रांगण में आयोजित किसान सम्मेलन एवं उत्पादकता प्रोत्साहन राशि वितरण समारोह में मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना का शुभारंभ किया। इस अवसर पर गेहूं उपार्जन केन्द्रों में वर्ष 2016-17 में पंजीकृत करीब 35 हजार किसानों को 49 करोड़ रुपए की प्रोत्साहन राशि ई-बैंकिंग के माध्यम से वितरित कर किसानों को प्रमाण-पत्र प्रदान किए गए। समारोह की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश प्रजापति ने की। इस अवसर पर चंदला विधायक आरडी प्रजापति, विधानसभा की कृषि समिति के सदस्य डॉ. घासीराम पटेल, कृषि उपज मंडी छतरपुर के अध्यक्ष बृजेश सिंह राय, भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह टुरया, भाजपा जिला उपाध्यक्ष जयराम चतुर्वेदी, कलेक्टर रमेश भण्डारी, उपसंचालक कृषि मनोज कश्यप सहित बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।

मुख्य अतिथि राज्यमंत्री ललिता यादव ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसान के बेटे होने के कारण हमेशा किसानों की चिंता करते हैं। खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए उन्होंने किसानों के हित में अनेक निर्णय लिए हैं। कृषि कैबिनेट की बैठक में विरोध के बावजूद उन्होंने भावान्तर भुगतान योजना स्वीकृत की और कहा था कि वे जिएंगे तो किसान के लिए और मरेंगे तो किसान के लिए। उन्होंने बताया कि वर्ष 2016-17 में छतरपुर जिले में गेहूं खरीदी केन्द्र में पंजीकृत 34 हजार 879 किसानों को 200 रुपए प्रति क्विंटल की दर से 24 लाख 37 हजार 832 मीट्रिक टन गेहूं की प्रोत्साहन राशि के तौर पर किसानों के बैंक खाते में ई-बैंकिंग के जरिए 48 करोड़ 75 लाख 66 हजार 652 रुपए का भुगतान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017-18 में भी गेहूं खरीदी केन्द्रों में पंजीकृत किसानों का गेहूं 1735 रुपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदा जा रहा है और इसकी प्रोत्साहन राशि 265 रुपए प्रति क्विंटल की दर से 10 जून तक किसानों के खाते में पहुंच जाएगी। उन्होंने बताया कि रवि 2018-19 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर चना, मसूर एवं सरसों की बिक्री करने वाले किसानों को 100 रुपए प्रति क्विंटल की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

राज्यमंत्री ललिता यादव ने बताया कि छतरपुर जिले में भावान्तर भुगतान योजना के तहत 31 हजार 529 किसानों के बैंक खातों में 77 करोड़ 23 लाख 67 हजार 705 रुपए जमा करा दिए गए हैं। अभी राजनगर और नौगांव मंडियों के 1750 छूटे किसानों के लिए 4 करोड़ 20 लाख 83 हजार 703 रुपए की और मांग की गई है। राशि प्राप्त होते ही किसानों के खातों में जमा कराने का प्रयास किया जा रहा है। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि श्रमकार्ड योजना के तहत अब तक जिले में 5 लाख 45 हजार पंजीयन हो चुके हैं। इस योजना से मजदूरों के साथ ही छोटे किसानों को बड़ा फायदा मिलेगा। समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का शाजापुर में किसान महा सम्मेलन में चल रहा उद्बोधन किसानों को एलईडी स्क्रीन लगाकर सुनाया गया। मुख्यमंत्री ने सभी को किसानों के कल्याण का संकल्प दिलाया। उपस्थित लोगों ने हाथ उठाकर संकल्प लिया।

Click Here

About

Check Also

अक्षय तृतीय पर कोलार इलाके में लगा महाजाम, 3 घंटे तक फसे रहे लोग

Share this on WhatsAppभोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में अक्षय तृतीया के मौके पर होने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *